Everlasting Blessings of Mata Dadanbai & Dr. Premchand Manghirmalani

Sindhiyat – Thoughts

देवनागिरी लिपी वक़त जी ज़रूरत

देवनागिरी लिपी वक़त जी ज़रूरत

देवनागिरी लिपी वक़त जी ज़रूरत एस पी सर गांधीनगर कोल्हापुर अजु सजी दुनिया खास करे भारत जे सिंधी समाज में जहिं हिक गालिह बाबत वधि में वधि चिंता ऐं विचारन जी डे वठु जो माहोल आहे सा आहे सिंधी भाषा…
Read more
सिन्धियत जो संकट

सिन्धियत जो संकट

सिन्धियत जो संकट एस पी सर गांधीनगर कोल्हापुर दुंनिया जी आर्थिक रूप में ताक़तवर कौमुन में शामिल, तमाम थोरायी वारी आदमशुमारी हूंदे बि बेशुमार मुलकन में सामाजिक , राजनैतिक तोड़े वापार जे खेतर में पहिंजे वज़ूद जो अहसास करायिण वारी…
Read more
सिंधी भाषा जो वज़ूद

सिंधी भाषा जो वज़ूद

सिंधी भाषा जो वज़ूद एस पी सर गांधीनगर कोल्हापुर अजु सिंधी समाज जे सामहूं सिंधी भाषा जे वज़ूद जो ख़ातिमे वारी हालत में अची पहुचण हिकु अहिड़ो प्रॉब्लम आहे जहिं जो तकिडो ऐं असिरायितो हलु कढ़ण इन लाय निहायत ज़रूरी…
Read more
मां ऐं सिर्फ मां

मां ऐं सिर्फ मां

मां ऐं सिर्फ मां एस पी सर गांधीनगर कोल्हापुर  मां हिकु अहिड़ो अखर आहे जहिं खे इंसानी समाजन में सुठियो न लेखियो वेंदो आहे पर मां इन राय जो आहियां त मां बिना कमु हलण बि नामुमकिन आहे।  दरअसल में इंसानी समाज में मां खे सुठो इन…
Read more
भारत में सिंधी पंचायतूं

भारत में सिंधी पंचायतूं

ज़मान माज़ी खां ज़मान हाल डांहुँ [From Past to Present] पहिंजे पोयें व्हाट्सप्प लाय लेख *सुजाग या सुमिहियल सिन्धी* मां इहो रायो ज़ाहिर कियो हो त सिंधी नवजवान तबके खे सामाजिक तोड़े राजनैतिक सिखिया डियण वास्ते असां सिंधियन वटि पुराणे…
Read more