Everlasting Blessings of Mata Dadanbai & Dr. Premchand Manghirmalani

श्याम जयसिंघानी

advertise here

Advertise Here

श्याम जयसिंघानी बाबत

फेमस मॉडर्न सिंधी लेखक - अकादमी अवार्ड - सिंधी ड्रामा
सिंधी साहित्य अकादमी अवार्ड सां नवाजियिल 31 सिंधी अदीब  1998

shyam_jaisinghaniविरहांगे खां पोय जे अरसे वारन नामवर सिंधी अदीबन में सिंधी ड्रामा लिखण वास्ते फेमस लेखक श्याम जयसिंघानी १९९८ जो मानवारो साहित्य अकादमी अवार्ड हासिल करे हिकु भेरो वरी साबित कियो त हुन खे मॉडर्न सिंधी लेखकन में अगिरो छो लेखियो वेन्दो आहे। १२ फरवरी १९३७ ते क्वेटा बलूचिस्तान में जन्म वरतल श्याम जयसिंघानी B.A. जी डिग्री हासिल करण खां सिवाय फोटोग्राफी ऐं सिविल ड्राफ्टमैनशिप में डिप्लोमा बि हासिल कियो आहे। सिंधी अदबी दुनिया में इहो बि चयो वेन्दो आहे त श्याम जयसिंघानी जी लेखणी मतलब विषय जो लफ़ज़न में बयान न पर विषय जा चित्र उकेरण आहे। अहिड़ा ५० खां बि वधिक मोका अची चुका आहिन जो कहिं सिंधी रिसाले जो कवर पेज श्याम जयसिंघानी ठाहियो हुजे।

श्याम सांवलदास जयसिंघानी उन्हन चूंड सिंधी अदीबन में शुमारियिल आहे जिनखे नावेल हुजे या कहाणी, सिंधी ड्रामा हुजे या नज़म या वरी नुक़तचीनी मतलब अदब जे हर दायरे में महारत हासिल आहे।  श्याम जयसिंघानी खे संदस रचनाउन वास्ते भारत सरकार जी एजुकेशन मिनिस्ट्री, HRD मिनिस्ट्री, महाराष्ट्र सिंधी साहित्य अकादमी, दिल्ली साहित्य अकादमी ऐं बियन केतिरिन संस्थाउन वठां अवार्ड मिली चुका आहिन।  १९९५ में सी टी खानोलकर जे  किताब " चानी " जो सिंधी तरजुमो कर्ण वास्ते हिन खे साहित्य अकादमी तो तरजुमे जो अकादमी अवार्ड पिण हासिल आहे।  

थोरे में परिचय [ बायोग्राफी ] – श्याम जयसिंघानी

सजो नालो 
श्याम सांवलदास जयसिंघानी

पढ़ाई 
B.A.फोटोग्राफी ऐं सिविल ड्राफ्टमैनशिप में डिप्लोमा 

भारत में रिआयिश 
मुम्बई - महाराष्ट्र

जन्म स्थान 
क्वेटा बलूचिस्तान

प्रोफेशन 
एडिटर

जन्म तारीख 
12  फरवरी  1937

खेतर 
सिंधी साहित्य 

योगदान – श्याम जयसिंघानी

नावेल ऐं कहाणी लेखक नुक़तचीनीकर हुअण खां सिवाय श्याम जयसिंघानी केतिरिन सिंधी रिसालन जा कवर पेज डिजाइन करे ऐं एडिटर तौर बि सिंधी साहित्य जी सेवा कयी आहे। श्याम जयसिंघानी जे लिखियील मकबूल किताबन जी लिस्ट में शामिल किताब : -

चानी
गोआनी मंज़र
हिकु बियो डींहुं
कच्चा धागा
मेलन जो संसार
नंगो आसमान
विछोटियूं
ज़लज़लो

 

अवार्ड – श्याम जयसिंघानी

सिंधी अदबी दुनिया में सभु खां वडो मानवरों "अकादमी अवार्ड " श्याम जयसिंघानी १९९८ में पहिंजे सिंधी ड्रामा जे किताब "ज़लज़लों " वास्ते हासिल करे चुको आहे। श्याम जयसिंघानी खे हासिल कुछ बिया अहमियत वारा अवार्ड किताब जे उनवान सूधा हेठ डिजन था।

साहित्य अकादमी जो तरजुमो अवार्ड १९९५ "चानी" [मूल लेखक सी तो खानोलकर ]
महाराष्ट्र सिंधी साहित्य अकादमी १९९० हिकु बियो डींहुं
HRD मिनिस्ट्री जो अवार्ड १९८६ मेलन जो संसार
एजुकेशन मिनिस्ट्री जो अवार्ड १९८१ विछोटियूं